जन विरोधी मोदी सरकार फिर से ब्याज दर बढ़ाने की तैयारी में : कांग्रेस  

Featured Latest खरा-खोटी छत्तीसगढ़
Spread the love

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने मोदी सरकार द्वारा बैंक ब्याज में बढ़ोतरी की खबरे जनता के साथ अन्याय है। मोदी सरकार जनता पर कमरतोड़ महंगाई, दिन-ब-दिन बढ़ती बेरोजगारी का बोझ डालने के बाद भी संतुष्ट नहीं है। मोदी सरकार अब बैंकों द्वारा दिए जाने वाले लोन पर ब्याज दरों में फिर से वृद्धि करने को तैयार है। पिछले ही महीने मोदी सरकार ने ब्याज दरों में 0.40þ कि अचानक बढ़ोतरी कर दी थी। वित्तीय विश्लेषण करने वाली एवं वित्तीय जानकारी देने वाली देश की विश्वसनीय संस्था ब्लूमबर्ग के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ब्याज दर में 0.75þ तक की बढ़ोतरी कर सकती है। मोदी सरकार को मुनाफाखोरी की लत लग चुकी है। महंगाई का दंश झेल रही जनता को राहत देने के बजाय मोदी सरकार जनता को हर तरफ से परेशान करने में लगी है।पिछले आठ सालों में केंद्र सरकार ने बार-बार पेट्रोल और डीजल पर करों में वृद्धि कर जनता से 26 लाख करोड़ रुपये वसूल लिए हैं।

 

 

यह भी पढ़े :

भाजपा बतायें धान के समर्थन मूल्य में 100 की वृद्धि से किसानों की आमदनी दोगुनी कैसे होगी? : कांग्रेस

 

 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा देश में थोक महंगाई दर 15 प्रतिशत तक बढ़ चुकी है। इसके बावजूद मोदी सरकार के वसूली का सिलसिला थम नहीं रहा है। मोदी सरकार अब बैंकों द्वारा दिए जाने वाले कर्ज पर ब्याज द्वारा बढ़ाने वाली है। आम जनता अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए लोन लेती है। मोदी सरकार के इस बेरहम कदम से होम लोन, वाहन लोन, शिक्षा लोन सहित कोई भी लोन लेने पर जनता को अतिरिक्त ब्याज का बोझ झेलना पड़ेगा। देश की अर्थव्यवस्था पहले ही घर की ओर जा रही है अब ब्याज दरों में वृद्धि के कारण व्यापार-व्यवसाय पर भी विपरीत असर पड़ेगा। अपने मित्र उद्योगपतियों के लाखों करोड़ का कर्ज माफ करने वाली मोदी सरकार जनता पर लगातार बेरहमी बरत रही है।महंगाई कम करने की बात करके केंद्र में बैठी मोदी सरकार जनता के साथ साहूकारों जैसा व्यवहार करके ब्याज वसूलने में लगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *