भिलाई के रंजीत सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी लोकेश पाण्डेय गिरफ्तार

Featured Latest छत्तीसगढ़ जुर्म
Spread the love

०० महादेव ऑनलाइन सट्टा के लेन-देन को लेकर की गई थी रंजीत सिंह की हत्या

रायपुर| भिलाई में रंजीत सिंह हत्याकांड के मामले में छावनी पुलिस ने मुख्य आरोपी और भाजयुमो से निष्कासित जिला महामंत्री लोकेश पाण्डेय को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बुधवार को उसे न्यायालय में पेश किया। उसने कहा कि यह हत्या ऑनलाइन सट्टा के लेन-देन को लेकर की गई है। पुलिस ने बताया कि इसके हत्याकांड के जो सीसीटीवी  फुटेज मिले हैं, उसमें आरोपी युवक मारपीट करते हुए लगातार मोबाइल से फोटो खींचते दिखे हैं। इस मारपीट का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। वीडियो में कुछ लोग रंजीत के साथ मारपीट करते दिख रहे हैं। पुलिस का कहना है कि हर एंगल से जांच कर रही है,उन लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज करेगी, जिन्होंने हत्या के बाद आरोपियों के भागने में मदद की है। मदद करने वालों में एक युवती का नाम भी आ रहा है, जिसने अपने बॉयफ्रेंड को स्कूटी से राजनांदगांव छोड़ा था। यह युवक भी इस हत्याकांड में शामिल था और अब गिरफ्तार हो चुका है।

 

यह भी पढ़े :

कार में मिला 80 लाख नकद, पुलिस ने 2 युवको को किया गिरफ्तार

 

 

एएसपी सिटी संजय ध्रुव ने बताया कि हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद लोकेश पाण्डेय फरार हो गया गया था। इसके बाद वह छत्तीसगढ़, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, विशाखाट्‌टनम और विजयनगरम सहित अन्य ठिकानों में छिपता रहा। पुलिस लोकेश को पकड़ न सके इसके लिए उसने मोबाइल, एटीएम, लैपटॉप जैसी जितनी भी आधुनिक टेक्नोलॉजी से जुड़ी सुविधाएं हैं उनका उपयोग नहीं कर रहा था। 21 जून को लोकेश ने विशाखाट्‌टनम स्ठित होटल यामिनी में कमरा लिया। चेक इन करने के लिए उसने आईडी के रूप में अपना आधार नंबर दिया। जैसे ही होटल वाले ने आधार ऑनलाइन लिंक किया पुलिस को लोकेश का लोकेशन मिल गया। इसके बाद तुरंत एक टीम वहां के लिए रवाना हुई और लोकेश को गिरफ्तार कर दुर्ग लाई।

 

यह भी पढ़े :

सोहागपुर के जंगल में मिला तेंदुए का शव, आकाशीय बिजली गिरने से मरने की आशंका

 

लोकेश पाण्डेय ने प्रेस वार्ता के दौरान मीडिया को बताया कि उसके साथ ही महादेव नाम का ऑनलाइन सट्टा चलाते थे। उसी के लेनदेन को लेकर रंजीत से उनका विवाद हुआ था। पुलिस को अभी भी आरोपी निखिल एंजल उर्फ चीकू की तलाश है। वह पुलिस को चकमा देकर इधर ठिकाने बदल-बदल रहा है। पुलिस का कहना है कि वह जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लेगी। एएसपी सिटी संजय ध्रुव ने बताया कि जांच के दौरान जो सीसीटीवी फुटेज मिला है उससे कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि आरोपियों ने रंजीत को तालिबानी अंदाज में मौत के घाट उतारा। लोगों में दहशत बनाने के लिए इन आरोपियों ने रंजीत से मारपीट और हत्या का फोटो शूट किया। चाकू मारते हुए सेल्फी ली तो लात घूंसा व बेस बल्ला से मारते समय फोटो खींचा। इसीलिए पुलिस ने इन आरोपियों का जुलूस निकाला, जिससे लोगों के मन से ऐसे अपराधियों का खौफ कम हो सके। 19 जून की रात को लोकेश ने अपने साथियों के साथ मिलकर रंजीत सिंह की हत्या की थी। सभी ने पहले तो उसे लात-घूंसे, बेसबॉल बैट से पीटा था। फिर चाकू गोदकर उसकी जान ले ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *