छत्तीसगढ़-ओडिशा बॉर्डर पर पुलिस-नक्सली मुठभेड़, एक नक्सली ढेर

Featured Latest छत्तीसगढ़ जुर्म
Spread the love

०० ईलाके की सर्चिंग पर निकले सीआरपीएफ जवानों पर नक्सलियों ने घात लगाकर किया हमला

रायपुर| छत्तीसगढ़ से लगे ओडिशा बार्डर पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच शुक्रवार को करीब साढ़े 5 घंटे से मुठभेड़ जारी है। इस दौरान एक नक्सली के मारे जाने की खबर है। हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि नहीं हुई है। मुठभड़े को देखते हुए छत्तीसगढ़ में भी अलर्ट कर दिया गया है। वहीं गरियाबंद से बैकअप फोर्स भेजी गई है। बताया जा रहा है कि दोनों ओर से रुक-रुक कर गोलीबारी जारी है।

जानकारी के मुताबिक, ओडिशा के बोडेन से सीआरपीएफ  जवान शुक्रवार सुबह सर्चिंग पर निकले थे। इस दौरान सुबह करीब 11 बजे नुवापाड़ा-गरियाबंद जिले से लगे मटाल और डड़ईपानी के जंगलों में घात लगाए बैठे नक्सलियों ने हमला कर दिया। इस पर जवानों की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की जा रही है। बताया जा रहा है कि वहां बड़ी संख्या में नक्सली मौजूद हैं। इसके बाद छत्तीसगढ़ से भी बैकअप फोर्स को रवाना किया गया है।

मुठभेड़ की पुष्टि करते हुए एसएसपी  चंद्रेश ठाकुर ने बताया कि मुठभेड़ अभी चल रही है। ओडिशा से सीआरपीएफ  को सूचना भेजी गई थी। स्थिति को देखते हुए गरियाबंद सीआरपीएफ  को भी अलर्ट कर दिया गया है। जवानों की एक टुकड़ी कुल्हाड़ीघाट कैंप से बार्डर की ओर भी निकल गई है। इस दौरान एक नक्सली के भी मारे जाने की खबर आ रही है हालांकि इसकी पुष्टि अभी नहीं हो सकी है। फिलहाल बार्डर इलाके में अलर्ट कर गश्त बढ़ा दी गई है।

21 जून को हुए हमले में 3 जवान हो गए थे शहीद :- इससे पहले मैनपुर डिवीजन कमेटी माओवादी संगठन ने पाटदहरा कैंप से लगे इलाके में 21 जून को सीआरपीएफ  जवानों पर हमला कर दिया था। इस हमले में 3 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही नुवापड़ा जिले में पुलिस और सीआरपीएफ  जवान एक्शन में हैं। इलाके में लगातार सर्चिग जारी है। बताया जा रहा है कि ओडिशा की ओर से पड़ रहे दबाव के बाद नक्सलियों की कुछ टुकड़ी छतीसगढ़ सीमा की ओर मूव कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *