अजय चंद्राकर के “आइटम गर्ल’ वाले बयान पर कवासी लखमा ने कहा, “चंद्राकर का बयान आदिवासी समाज का अपमान”

Featured Latest आसपास छत्तीसगढ़ प्रदेश
Spread the love

०० कवासी लखमा ने कहा, बयान के लिए अजय चंद्राकर सार्वजनिक रूप से मांगे माफी

०० लखमा ने दी चेतावनी, अगर ऐसा नहीं हुआ तो आदिवासी समाज सड़क से सदन तक लड़ाई लड़ने को तैयार

रायपुर| भाजपा विधायक अजय चंद्राकर के “आइटम गर्ल’ वाले बयान पर छत्तीसगढ़ की राजनीति गर्म होती दिख रही है। आबकारी और उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने चंद्राकर के बयान को आदिवासी समाज का अपमान बताया है। उन्होंने इस बयान के लिए अजय चंद्राकर को माफी मांगने को कहा है।

 

 

यह भी पढ़े :

प्रदेश के किसानों, ग्रामीणों एवं मजदूरों की हितों की रक्षा करना छत्तीसगढ़ सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : मंत्री श्रीमती भेंड़िया

 

 

रायपुर में शंकर नगर स्थित आवास पर पत्रकारों से चर्चा में आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा, अजय चंद्राकर ने उनके लिए आइटम गर्ल शब्द प्रयोग कर उनका ही नहीं बस्तर के आदिवासी समाज का भी अपमान किया है। उनकी भावना और आत्मसम्मान को ठेस पहुंची है। चंद्राकर का बयान आने के बाद उनको बस्तर के तमाम समाज प्रमुखों का फोन आ रहा है। लोग इसे अपमानजनक बताकर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। कवासी लखमा ने कहा, अपने इस बयान के लिए अजय चंद्राकर सार्वजनिक रूप से माफी मांगे। अगर ऐसा नहीं हुआ तो आदिवासी समाज सड़क से सदन तक लड़ाई लड़ने को तैयार है। समाज अजय चंद्राकर को बस्तर में घुसने नहीं देगा।

 

यह भी पढ़े :

कोयला कारोबारी सूर्यकांत ने हैरान कर देने वाला खुलासा, कहा “प्रदेश में सत्ता परिवर्तन की रची जा रही साजिश”

 

 

कवासी लखमा ने कहा, वे भाजपा नेतृत्व से भी पूछना चाहते हैं कि वे अजय चंद्राकर के इस बयान से सहमत हैं। क्या रमन सिंह इस बात से सहमत हैं। क्या विष्णुदेव साय और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक अपने विधायक के इस बयान से सहमत हैं। अगर नहीं हैं तो भाजपा बताए कि वह क्या कार्रवाई कर रही है। ज्ञात हो कि भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने 6 जुलाई को धमतरी के कुरूद में खाद संकट के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसपर प्रतिक्रिया देते हुए कवासी लखमा ने कहा था कि चंद्राकर दिल्ली में यह प्रदर्शन करते तो किसानों का भला होता। शनिवार को लखमा के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए अजय चंद्राकर ने कह दिया कि वे उनकी बातों को गंभीरता से नहीं लेते। वे कांग्रेस मंत्रिमंडल के “आइटम गर्ल’ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *