स्कूल में घुसकर 10वीं के छात्र की मामूली सी बात पर निर्दयता से हत्या

Featured Latest छत्तीसगढ़ जुर्म
Spread the love

०० मृतक छात्र को पहले छात्रों ने घेरा फिर इंग्लिश में बात की, जवाब नहीं दिया तो पीट-पीटकर तोड़ी पसली

रायपुर| राजधानी के एक 10वीं के छात्र की उसके स्कूल में घुसकर हत्या कर दी गई, वारदात को स्टूडेंट्स के ही एक ग्रुप ने अंजाम दिया है। एक नाबालिग को पुलिस ने हिरासत में लिया है, उससे पूछताछ जारी है। बाकि के भागे हुए स्टूडेंट्स का पता लगाया जा रहा है।

 

यह भी पढ़े :

आर्च ब्रिज के नीचे मिली युवक की लाश, हत्या-आत्महत्या या दुर्घटना को लेकर बना रहस्य

 

सोमवार को दोपहर खमतराई इलाके के सरकारी स्कूल में हुआ। काशीराम शर्मा शासकीय स्कूल में पूरक परीक्षा (सप्लीमेंट्री) आयोजित थी। 10वीं का छात्र मोहन सिंह एग्जाम देने स्कूल आया हुआ था। यहां कक्षा 11वीं के कुछ स्टूडेंट्स से उसका विवाद हुआ। वारदात के वक्त मोहन के साथ मौजूद एक छात्र ने बताया कि जिन लड़कों ने मारपीट की हम उन्हें नही जानते थे। कोई पुराना झगड़ा भी नहीं था। उनमें से एक लड़का हमारे करीब आया और बोला- कौन सी क्लास में हो, हमने कहा 10 वीं। इसके बाद उसने इंग्लिश में कुछ पूछा, हमने जवाब नहीं दिया आगे बढ़ गए। आगे बढ़ते ही लड़के ने मोहन से कहा- तू होशियार बन रहा है और पीटने लगा, इसके बाद उसके बाकी के साथियों ने भी उसे पीटना शुरू कर दिया। मोहन को पीटते हुए स्कूल ग्राउंड से बाहर ले जाया गया। सड़क पर गिराकर पीटा गया, लात-घूंसे से वो उसे मार रहे थे। जब मोहन का खून बहने लगा और वो बेहोश हो गया था तो लड़के भागने लगे।

 

यह भी पढ़े :

छोटे भाई की हत्या कर शव जमीन पर गाड़ा, बदबू ने खोला हत्या का राज

 

 

स्कूल के स्टाफ और मौके पर मौजूद बाकि लड़कों ने विवाद कर रहे लड़के को पकड़ लिया, वो भनपुरी का ही रहने वाला था। इस नाबालिग को पुलिस के हवाले किया गया है, पुलिस भाग चुके बाकि के लड़कों का पता लगा रही है। रात तक बाकियों के भी पकड़ने जाने की संभावना है। इस घटना से स्टूडेंट मोहन का परिवार सदमें में है। उसके पिता एक दुकान में काम करते हैं। उन्हें खबर दी गई तो भागे-भागे अंबेडकर अस्पताल पहुंचे। स्कूल से मोहन को अस्पताल लाया गया, डॉक्टर्स ने बताया कि मारपीट की वजह से उसकी पसली टूट गई, उसने दम तोड़ दिया। अब पिता की आंखों से आंसू सूख चुके हैं। घटना से हैरान पिता अब अंबेडकर अस्पताल की मॉर्चुरी के बाहर मौजूद बेटे को पोस्टमॉर्टम पूरा होने का इंतजार कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *