अंतागढ़ विधायक पर नक्सलियो ने लगाया खदानों का एजेंट होने का आरोप, बैनर लगाकर विधायक का बहिष्कार करने की बात कही

Featured Latest छत्तीसगढ़ जुर्म
Spread the love

०० नक्सलियों के निशाने पर अंतागढ़ विधायक, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई

रायपुर| कांकेर जिले के अंतागढ़ विधानसभा के विधायक अनूप नाग नक्सलियों के निशाने पर हैं। नक्सलियों ने अनूप नाग को आदिवासी विरोधी बताया है। साथ ही इन्हें खदान मालिकों का एजेंट होना कहा है। नक्सलियों ने सड़क किनारे पेड़ों समेत झाड़ियों में बैनर लगाकर विधायक का बहिष्कार करने की बात कही है। मामला जिले के पखांजुर थाना क्षेत्र का है।

 

यह भी पढ़े :

गाय के पैर बांधकर साथ युवक ने की क्रूरता, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

 

बताया जा रहा है कि, नक्सलियों ने पखांजुर से महज 4 किमी की दूरी पर पी व्ही 33 में बैनर लगाए हैं। माओवादियों ने बैनर के माध्यम से अंतागढ़ विधायक अनूप नाग को पुलिस बुद्धि का बताया है। आदिवासियों के विरोध में काम करने का आरोप लगाया है। साथ ही क्षेत्र में संचालित खदानों से साठ-गांठ होने का भी आरोप लगाया है। हालांकि, पुलिस ने नक्सलियों के लगाए बैनर बरामद कर लिए हैं।

 

यह भी पढ़े :

नकली सोना को असली बताकर बैंक से गोल्ड लोन लेने गया व्यापारी, ठगी का मामला दर्ज

 

मामला गंभीर होने की वजह से विधायक के घर के बाहर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं साथ ही विधायक से उनके घर पर मिलने आने वाले लोगों से नाम पता की जानकारी ली जा रही है। पुलिस घर के आस-पास वाले इलाकों में नजर बनाए हुए हैं। इस संबंध में विधायक अनूप नाग ने कहा कि, बैनर में नाम लिखे जाने की मुझे जानकारी मिली है। नक्सलियों ने जिस तरह से उद्योगपतियों के साथ मेरे संबंध होने की बात कही है, वह गलत है। क्षेत्र की जनता जानती है कि मेरा इसमें कोई हाथ नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *