मोदी सरकार पिछड़ा वर्ग समुदाय के उत्थान में बनी हुई है सबसे बड़ी बाधक : कैप्टन अजय सिंह यादव

Featured Latest खरा-खोटी छत्तीसगढ़
Spread the love

रायपुर|  कैप्टन अजय सिंह यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी -पिछड़ा वर्ग विभाग के द्वारा छत्तीसगढ़ पिछड़ा वर्ग कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. चौलेश्वर चंद्राकर ,राष्ट्रीय समन्वयक/छत्तीसगढ़ प्रभारी  सुबोध मंडल, कैबिनेट मंत्री दर्जा (अध्यक्ष शाकंभरी बोर्ड)  संदीप साहू, पूर्व विधायक चुन्नीलाल साहू  के साथ रायपुर प्रेस क्लब में पिछड़ा वर्ग समुदाय एवं देश के ज्वलंत मुद्दों को लेकर प्रेस वार्ता की गई। प्रेस वार्ता के दौरान कैप्टन यादव ने केंद्र की मोदी सरकार के दूषित मंसूबों पर से पर्दा उठा दिया । कैप्टन यादव ने कहा कि देशभर में पिछड़ा वर्ग समुदाय की आबादी  (1932 की जनगणना के अनुसार) लगभग 52% है, किंतु मोदी सरकार इस वर्ग के उत्थान में सबसे बड़ी बाधक बनी हुई है । केंद्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की अवधि 2021 तक थी। जिसके व्यतीत हुये आज एक वर्ष पूरे हो चुके है किंतु केंद्र की मोदी सरकार ने आज तक नवीन आयोग का गठन नही किया। पूरे देश भर में पिछड़ा वर्ग की क्वांटिफायेबल डाटा का सही आंकड़ा न  होने के कारण कई प्रदेशों के नगरीय निकाय एवं म्युनिस्पल के चुनावों में पिछड़ा वर्ग समुदाय को प्राप्त होने वाला आरक्षण कोर्ट के द्वारा समाप्त कर दिया जा रहा है। देश की सबसे बड़ी आबादी के बावजूद भी मोदी सरकार इनके विकास के लिए कोई कार्य नहीं कर रही है।

 

 

यह भी पढ़े :

गब्बर सिंह टैक्स से बचने गरीबों को खरीदने होंगे 25 किलो से अधिक चावल, आटा, बेसन, दही, पनीर : कांग्रेस

पिछड़ा वर्ग के विकास के लिए केंद्र सरकार को ने सिर्फ नवीन आयोग का तत्काल गठन करना चाहिए बल्कि एक अलग एवं स्वतंत्र पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग का गठन करना चाहिए एवं अलग से वित्त की व्यवस्था करनी चाहिए जिससे की पिछड़ा वर्ग का समुचित विकास किया जा सके। देश में जातिगत जनगणना की जानी चाहिए ताकि पिछड़ा वर्ग की वास्तविक क्वांटिफायेबल डाटा प्राप्त हो सके। अग्निविर सैनिक भर्ती योजना के माध्यम से देश की सैन्य व्यवस्था को ठेके में देने एवं राष्ट्रीय सुरक्षा को कमजोर करने का काम कर रही है जिसे तत्काल वापस लेना चाहिए। डीजल, पेट्रोल, गैस के साथ-साथ खाने पीने की वस्तुओं आदि में भरी GST लगाकर जनता से वसूली किया जा रहा है, खाने पीने की चीजों में 5% GST लगाई गई है जबकि हीरे पर महज 1.5% GST है इस प्रकार मोदी सरकार देश के माध्यम वर्गीय समुदाय एवं निम्न वर्गीय समुदाय से वसूली कर सिर्फ बड़े उद्योगपतियों का जेब भरने में लगी हुई है। वही दूसरी ओर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार किसानों को, मजदूरों को, व्यापारियों को, नौकरीपेशा लोगों को, उद्योगपतियों को सभी वर्गों एवं समुदाय के लोगों का समुचित विकास करने का उत्कृष्ट कार्य कर रही है। यहां गोबर 2 रुपए किलो खरीदा जा रहा है, गोमूत्र भी खरीदने की तैयारी है, गांव में फूड पार्क एवम सी-मार्ट बनाया जा रहा है, उद्यमियों को कम टैक्स में भूमि उपलब्ध कराई जा रही है। नौकरीपेशा लोगों के लिए पुरानी पेंशन योजना बहाल कर दी गई है। पिछड़ा वर्ग को 27% आरक्षण देने का काम भूपेश बघेल ने किया है।

 

यह भी पढ़े :

कांग्रेस की देशव्यापी भारत जोड़ो यात्रा 2 अक्टूबर 2022 से : कांग्रेस

 

मैं छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार के कार्यों को धरातल पर देख कर आ रहा हूं, मैं आत्मानंद स्कूलों को देखने गया , गौठान को देखने गया साथ ही पर्यटन के रूप में भगवान राम गमन पथ को बस्तर से सरगुजा तक निर्माण का कार्य किया जा रहा है, चंदखुरी में माता कौशल्या के मंदिर का निर्माण किया गया हैं। इस प्रकार भूपेश की न सिर्फ असली रामभक्त है बल्कि भगवान राम के प्रति उनकी अटूट आस्था भी परिलक्षित होती है। भाजपा तो सिर्फ भगवान राम के नाम पर वोट मांगा करते है उनकी उनके प्रति कोई वास्तविक आस्था नही है। बल्कि भाजपा अपनी पार्टी के पदाधिकारियों / कार्यकर्ताओं के माध्यम से देश में सांप्रदायिक हिंसा एवं देश का सौहार्द बिगाड़ने का कार्य कर रही है उदयपुर में कन्हैया का हत्यारा इनकी पार्टी का , जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रा पर हमला करने वाला आतंकवादी इनकी पार्टी का , महाराष्ट्र का हत्यारा इनकी ही पार्टी का निकला । कांग्रेस देश को जोड़ने का कार्य कर रही है जबकि भाजपा देश को बांटने का कार्य कर रही है। इस अवसर पर अनेकों पत्रकारों के सवालों का कैप्टन यादव  ने संतोषप्रद जवाब दिया। उन्होंने बताया की आज सुबह उन्होंने पिछड़ा वर्ग के पदाधिकारियों प्रभारी महामंत्री संगठन नचिकेता जायसवाल, भूषण साहू , सुरेश यादव, शीट श्रीवास , प्रवेश पटवा आदि कई अन्य पदाधिकारियों के साथ छत्तीसगढ़ एवं देश के समस्त जनता को खुशहाली के लिए सावन के प्रथम सोमवार के दिन महादेव घाट में भगवान भोलेनाथ से प्रार्थना, माता कौशल्या का दर्शन किया एवं प्रार्थना किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *