गीदम विकासखंड स्तरीय शाला प्रवेशोत्सव में नव प्रवेशी बच्चों का किया गया भव्य स्वागत

Featured Latest आसपास छत्तीसगढ़ प्रदेश
Spread the love

गीदम/दंतेवाड़ा| स्कूल शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन के सौजन्य से दंतेवाड़ा जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कर्मा एवं जिला मिशन समन्वयक श्यामलाल सोरी के मार्गदर्शन पर गीदम विकासखंड स्तरीय शाला प्रवेशोत्सव 2022-23 जावंगा स्थित एजुकेशन सिटी ऑडिटोरियम में हर्ष उल्लास से मनाया गया। नव प्रवेशी बच्चों को माथे पर तिलक लगाकर गणवेश, पाठ्यपुस्तक एवं स्कूल बैग देकर स्वागत किया गया। यह कार्यक्रम दंतेवाड़ा जिला के जनप्रतिनिधि, अधिकारियों, शिक्षकों, जन गणमान्य तथा बच्चों के समक्ष आयोजित किया गया।

 

यह भी पढ़े :

मंत्री कवासी लखमा सुकमा जिले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का लिया जायजा, बाढ़ की वजह से नहीं पहुंच सके  

 

 

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत सदस्य सुलोचना कर्मा, विशिष्ठ अतिथियों गीदम नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनकुराम लेकामी, जावंगा ग्राम पंचायत सरपंच आरती कोवासि, आस्था विद्या मंदिर शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष बोमडाराम कोवासि, गीदम नगर पंचायत पार्षद इतवारी साहू, रघुनाथ अतरा, समाजसेवी रवीश सुराना ने कहा कि बच्चें ही देश के भविष्य है एवं नव प्रवेशी बच्चों को शुभकामनाएं तथा अच्छे से पढ़ लिख कर भविष्य उज्ज्वल की प्रेरणा दी। कार्यक्रम में गीदम विकासखंड शिक्षा अधिकारी शेख़ रफीक, सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी भवानी पूनम, खंड स्रोत समन्वयक अनिल शर्मा, हाउरनार संकुल प्राचार्य जितेंद्र यादव, गीदम संकुल प्राचार्य कैलाश नीलम, हितामेटा संकुल प्राचार्य जयदेव नाग, जावंगा संकुल प्राचार्य शर्मिला कडती ने शिक्षा का महत्व बताते नया सत्र में बच्चों को शिक्षित कराने एवं अन्य गतिविधियो में हर्ष उल्लास से शामिल करने का मार्गदर्शन दिया।

 

यह भी पढ़े :

भारी बारिश का कहर : गंगरेल डैम के सभी 14 गेट खोले गए, 10 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया

 

 

उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी से प्रभावित होने के  ढ़ाई वर्ष पश्चात पूर्णरूप से शिक्षा व्यवस्था संचालित हो रहा है। विषम परिस्थितियों में भी शिक्षकों ने अपने कर्तव्य भव्य रूप से निभाया। बच्चों के भविष्य उज्ज्वल बनाने में शिक्षकों का योगदान महत्वपूर्ण है। इस कार्यक्रम में मंच संचालन हाउरनार संकुल समन्वयक जितेंद्र चौहान एवं शिक्षाविद अमुजुरी विश्वनाथ ने निभाया एवं सर्व प्राचार्य, सर्व प्रधान पाठक, सर्व संकुल समन्वयक, शिक्षक शिक्षिका उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *