मंत्री टीएस सिंहदेव का इस्तीफा मंजूर, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे संभालेंगे पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग

Featured Latest खास खबर छत्तीसगढ़ बड़ी खबर राजनीती
Spread the love

०० सामान्य प्रशासन विभाग ने बदलाव की अधिसूचना की जारी

रायपुर| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वरिष्ठ मंत्री टीएस सिंहदेव का पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। उसके बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने बदलाव की अधिसूचना भी जारी कर दी है। इसके मुताबिक सिंहदेव के पास अब स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, जीएसटी और 20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग की जिम्मेदारी होगी। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अब कृषि मंत्री रविंद्र चौबे संभालेंगे।

 

 

यह भी पढ़े :

विधानसभा : सरकार के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा मंजूर, 27 को जुलाई को होगी चर्चा

 

 

मंत्री टीएस सिंहदेव ने शनिवार शाम को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफे की घोषणा की थी। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चार पेज का एक पत्र लिखा। इसमें विभाग में लगातार दखल और उनके प्रस्तावों पर काम नहीं होने की गंभीर शिकायतें हैं। इस पत्र में उन्होंने साफ शब्दों में कहा है कि वे पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के भार से खुद को पृथक कर रहे हैं। इस पत्र के बाद संगठन और सरकार में एक दिन तक सन्नाटा पसरा रहा। रविवार सुबह जैन समाज के एक कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उन्हें पत्र ही नहीं मिला है। पत्र मिले तो उसका परीक्षण कराएंगे। उसके बाद हुई विधायक दल की बैठक में सिंहदेव के पत्र को अनुशासनहीनता बताकर कार्यवाही की मांग हुई। मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा, अब फैसला हाईकमान के हाथ में है। बताया जा रहा है कि शीर्ष नेताओं ने सिंहदेव से बात कर उन्हें फैसला बदलने पर राजी करने की कोशिश की। वे नहीं माने तो मंत्रिमंडल में फेरबदल को मंजूरी दे दी गई।

 

 

यह भी पढ़े :

विधानसभा : टी.एस.सिंहदेव के इस्तीफे को लेकर दूसरे दिन भी हंगामा जारी, आवास योजना के सवाल पर भाजपा का वॉकआउट

 

 

करीब पांच दिनों के मंथन के बाद गुरुवार शाम उनका एक विभाग से इस्तीफा स्वीकार कर मंत्रियों की जिम्मेदारियों में फेरबदल किया गया।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में मंत्रिमंडल में फेरबदल की सूचना दी। छत्तीसगढ़ के राजपत्र में सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रियों के विभागों में बदलाव की अधिसूचना भी प्रकाशित की है। इसमें रविंद्र चौबे के कृषि, पशुधन विकास, मछली पालन, जल संसाधन और संसदीय कार्य विभाग के साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके साथ सिंहदेव के इस्तीफे को लेकर उठे विवाद का एक अध्याय समाप्त हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *