नक्सलियों ने शिव मंदिर के पास लगाया 2 आईईडी, सुरक्षा बलों ने किया दोनों आईईडी को डिफ्यूज

Featured Latest छत्तीसगढ़ जुर्म
Spread the love

रायपुर| बीजापुर जिले में जवानों ने नक्सलियों के मंसूबों को एक बार फिर से नाकाम कर दिया है। नक्सलियों ने शिव मंदिर के पास 2 आईईडी प्लांट कर रखी हुई थी। इस आईईडी की चपेट में आने से जवान या मंदिर में आने वाले भक्त जख्मी हो सकते थे। लेकिन, जवानों ने नक्सलियों की इस कायराना करतूत को नाकाम करते हुए दोनों आईईडी को डिफ्यूज कर दिया है। मामला जिले के उसूर थाना क्षेत्र का है।

 

यह भी पढ़े :

18 लाख के 3 ईनामी नक्सलियों ने किया सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण

 

 

जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों के शहीदी सप्ताह को देखते हुए जिले में जवानों ने सर्चिंग बढ़ा दी है। शनिवार की सुबह सीआरपीएफ  229 बटालियन की टीम एरिया डोमिनेशन के लिए निकली हुई थी। इस बीच जवान उसूर-आवापल्ली मार्ग में मुख्य सड़क के किनारे स्थित शिव मंदिर के पास पहुंचे। इलाके की सर्चिंग की गई। इस बीच मंदिर से कुछ ही दूरी पर बीडीएस  ( बम निरोधक दस्ता) की टीम ने 5-5 किलो के 2 पाइप बम बरामद किए। जिसके बाद मौके पर ही दोनों बम को डिफ्यूज कर दिया गया।

 

 

यह भी पढ़े :

नक्सलियों का शहीदी सप्ताह 28 जुलाई से 3 अगस्त तक, सड़क पर लिखकर ऐलान

 

 

सीआरपीऍफ़ के अधिकारियों ने बताया कि, नक्सलियों ने वी आकार में बम प्लांट किया था। यह डायरेक्शनल पाइप बम कमांड सिस्टम से लगाया गया था। स्थित को देख कर ऐसा लग रहा था कि माओवादियों ने 4 से 5 दिन पहले ही इस बम को प्लांट किया हो। अफसरों ने कहा कि, इसी इलाके में रोजाना फोर्स ओपरेशन पर निकली है। शिव मंदिर होने की वजह से इस मार्ग से लोगों की आवाजाही भी बहुत अधिक होती है। लोग यहां रुकते भी हैं। ऐसे में आईईडी की चपेट में ग्रामीण भी आ सकते थे। दरअसल, बस्तर में नक्सली  28 जुलाई से 3 अगस्त तक चारू मजूमदार शहीदी दिवस और शहीदी सप्ताह मना रहे हैं। नक्सलियों के इस सप्ताह का आज तीसरा दिन है। अपने इस सप्ताह के दौरान माओवादी बड़ी घटनाओं को भी अंजाम देते हैं वहीं बस्तर में फोर्स को अलर्ट कर दिया है। संभाग के सातों जिलों में जवान लगातार सर्चिंग पर निकल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *